Lok Dastak

Hindi Samachar, हिंदी समाचार, Latest News in Hindi, Breaking News in Hindi.Lok Dastak

जागरूकता हेतु लगाये गये स्टॉल्स का एसपी ने किया उद्घाटन

1 min read

अमेठी I
थानाक्षेत्र जायस में लगने वाले सूरजकुण्ड मेले में लोगों की जागरूकता हेतु लगाये गये स्टॉल्स ( UP COP ऐप, यातायात, डायल-112, साइबर जागरूकता ) का पुलिस अधीक्षक अमेठी द्वारा किया उद्घाटन गया I
स्टॉल के माध्यम से लोगों को पोस्टर, बैनर एवं पंपलेट वितरित कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है I UP COP स्टॉल के माध्यम से पंपलेट बांटकर लोगों को बताया जा रहा है कि इस एप द्वारा अपने मोबाइल से घर बैठे ही रिपोर्ट दर्ज करवाई जा सकती है । इस एप के माध्यम से कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन पुलिस शिकायत दर्ज करवा सकता है ।

UP COP ऐप पर वाहन चोरी, वाहन लूट, मोबाइल स्नैचिंग, गुमशुदगी एवं साइबर अपराध आदि की ऑनलाइन रिपोर्ट दर्ज करायी जा सकती है । डायल-112 के स्टॉल के माध्यम से लोगों को पंपलेट बांटकर, पोस्टर-बैनर के माध्यम से लोगों को डायल-112 पुलिस इमरजेंसी सेवाओं जैसे- पुलिस सहायता, आग लगने पर, मेडिकल इमरजेंसी, बच्चों/बुजुर्गों की सहायता, प्राकृतिक आपदा, घरेलू हिंसा/महिलाओं की सहायता, प्लेटफॉर्म/ट्रेन में सहायता एवं एक्सप्रेसवे/हाइवे सुरक्षा आदि के संबंध में डायल-112 की सहायता लेने के बारे में विस्तार से जानकारी दी जा रही है । यातायात पुलिस स्टॉल के माध्यम से लोगों को पंपलेट बांटकर, पोस्टर-बैनर के माध्यम से लोगों को हेलमेट और सीट बेल्ट पहनकर वाहन चलाने हेतु, शराब पीकर वाहन न चलाने, मोटरसाइकिल पर दो सवारी से अधिक न बैठने एवं यातायात नियमों के पालन हेतु जानकारी दी जा रही है ।साइबर अपराध जागरूकता स्टॉल के माध्यम से लोगों को पंपलेट बांटकर, पोस्टर-बैनर के माध्यम से लोगों को साइबर अपराध से बचने हेतु निम्न बिन्दुओं पर विस्तार से जानकारी दी रही है-
साइबर अपराधी आपकी निजी जानकारी इक्ट्ठा करते है और इसका उपयोग इंटरनेट पर आपकी झूठी पहचान बनाने में उपयोग कर सकते है । किसी भी सार्वजनिक साइट, ब्लॉग या सोशल मीडिया पर अपनी निजी जानकारी कभी भी साझा/शेयर न करें । जैसे कि आपकी सरकारी आईडी, पासवर्ड, बैंक खाता नम्बर, पिन इत्यादि । अपने पासवर्ड को जटिल रखें (अर्थात अक्षरों – जैसे a, b, c, संख्याओं। जैसे 1, 2, 3 और विशेष अक्षरों–जैसे @, #, % को मिलाकर पासवर्ड बनाये) और उसे किसी के साथ साझा न करें। विभिन्न साइटों/ऐप्स के लिए अलग-अलग पासवर्ड का प्रयोग करें ।ऑनलाइन बैंकिंग या ऑनाइन लेनदेन करने के लिए कभी भी सार्वजनिक/ मुफ्त वाईफाई का उपयोग न करें । साइबर अपराध होने पर तत्काल पुलिस को सूचना दें । 24 से 48 घंटे के अंतराल में आपके धन को वापस कराने की अधिक संभावना रहती है । सिम ब्लाक/एक्सपायर का संदेश प्राप्त होने पर दिये गये नम्बरों पर वार्तालाप न करें । फोन पर कैश रिवार्ड को अपने खाता में लेने के नाम पर अज्ञात व्यक्ति के बताये हुये नियमों का पालन न करें । कभी भी बैंक खाते, क्रेडिट/डेबिट कार्ड के विवरण इमेल या फोन पर शेयर न करें । किसी भी अनजान नंबर से वीडियो काल स्वीकार न करें । किसी भी प्रकार के साइबर अपराध होने पर तत्काल हेल्पलाइन नं 1930 पर संपर्क करें अथवा www.cybercrime.gov.in पर रिपोर्ट करें । किसी भी सोशल साइट पर अपनी व्यक्तिगत जानकारी शेयर न करें । फोन काल/एसएमएस या अन्य किसी माध्यम से OTP,UPI,MPIN,ATM PIN किसी को न बताएं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2022 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:-8920664806
Translate »